Monday, 14 November 2011

to madi... with love


खोना, डूबना, भूल जाना, माफ़ी माँगना
पैर घिसट के चलना, रोना, चाय पीना,
यह है तो सब हसीं है, मैं भी और सामने वाला भी 

1 comment:

  1. Kitna sach h zindagi in choti choti baaton se milkar kitni haseen bani rehti h....baaki sam bekaam ka rona..
    LUV U CHOTELAAL...

    ReplyDelete